फिर अच्छे दिन आएँगे

1 ये रात स्याह कट जायेगी, फिर से नई सुबह आएगी । थोड़ा सा धीरज तू रख ले, ये स्याह रात लंबी सह ले। तू श्रद्धा और सबुरी रख, फिर से अच्छे दिन आएँगे । 2 ये स्याह रात लंबी माना, मुश्किल Read More